35.1 C
Khagaria
Monday, June 24, 2024
बड़ी खबरें :

1997 में बिहार से नोएडा up आए, आज 3.25 लाख महीना किराए पर खोखा लिया, कमाई कैसे होगी? दिगंबर झा का कॉन्फिडेंस गजब है नोएडा के सेक्‍टर-18 मेट्रो स्‍टेशन के पास बना है यह खोखा,जानें

  • 1997 में बिहार से नोएडा up आए, आज 3.25 लाख महीना किराए पर खोखा लिया, कमाई कैसे होगी? दिगंबर झा का कॉन्फिडेंस गजब है
    नोएडा के सेक्‍टर-18 मेट्रो स्‍टेशन के पास बना है यह खोखा,जानें
    JNA/रंजय तिवारी
    ग्रेडर नोएडा,यूपी।आप मानें या ना मानें किन्तु सत्य है,क्या सोनू कुमार झा ने लगाई सबसे बड़ी बोली खोखे का हर महीने 3.25 लाख रुपये किराया चुकाएंगे सोनू,सोनू के पिता दिगंबर झा 1997 में दरभंगा से आए थे,नोएडा:यूपी।देश की राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा के दिल अट्टा मार्केट के सेक्टर-18 मेट्रो स्टेशन से उतरते ही आपकी नजर सामने एक नारंगी रंग के खोखे पर पड़ती है ,और K-1 लिखा है,साइज होगा कोई 7X7 फीट का तथा इस सीरीज के करीब 10 खोखे अड्डा मार्केट में नए बने हैं। पान, बीड़ी सिगरेट की इन गुमटियों की पूरे देश में खूब चर्चा है। सबसे ज्यादा वायरल है K-3 नंबर का खोखा। किसी से भी पता पूछिए, आपको वह हाथ का इशारा कर अभी तक बंद पड़ा यह खोखा दिखा देगा। वजह है इसका किराया, जो 3 लाख 25 हजार रुपये महीना है। इस पर एक बार यकीन करना मुश्किल है।लेकिन किराया यही है। इससे भी अविश्वनीय बात यह है कि इसकी बोली जीती है यहीं पर करीब 25 साल से चाय की टपरी लगा रहे दिगंबर झा के बेटे सोनू झा ने।

एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में दिगंबर झा ने अपनी पूरी कहानी सुनाई।JNA के अनुसार नोएडा के सेक्‍टर-18 मेट्रो स्‍टेशन के पास बना है यह खोखा*इस खोखे के लिए सोनू कुमार झा ने लगाई सबसे बड़ी बोली खोखे का हर महीने 3.25 लाख रुपये किराया चुकाएंगे ,सोनू के पिता दिगंबर झा 1997 में दरभंगा से आए थे नोएडा,दिगंबर झा बताते हैं कि वे बिहार के दरभंगा जिले से 1997-98 में नोएडा आए।तब से वह पान, बीड़ी-सिगरेट बेच रहे हैं। अब चाय भी पिलाने लगे हैं। एनबीटी ऑनलाइन को उन्‍होंने 2001 में जारी लाइसेंस भी दिखाया। उसमें झा की दुकान का पता ‘पान भंडार, कॉर्पोरेशन बैंक, पुलिस चौकी सेक्‍टर-18, नोएडा’ लिखा है।कैसे वसूल होगा खोखे का किराया?बेटे ने इतनी महंगी बोली क्‍यों लगाई? पूछने पर दिगंबर बताते हैं, ‘जब अगले ने 3.10 (लाख रुपये) की बोली लगाई तो मेरा लड़का भी आगे बढ़ गया।’ दुकान का किराया 3.25 लाख रुपये प्रति महीना है। इसमें खोखे के अलावा आसपास का थोड़ा सा इलाका भी शामिल है। इतने ज्‍यादा किराया चुकाकर रिकवरी और प्रॉफिट कैसे कमाएंगे? नू से फोन पर बात हुई तो उन्‍होंने खुलकर अपना प्‍लान नहीं बताया। कहा कि दुकान खुलने का इंतजार कीजिए। हालांकि, सोनू के पिता को पूरा यकीन है कि सब हो जाएगा। दिगंबर में ने कहा, ‘प्रयास हर इंसान करता है। प्‍लान ये है कि खाने-पीने का आइटम भी रखेंगे।’वहीं दिगंबर झा ने एनबीटी ऑनलाइन को बताया कि सोनू के अलावा उनकी एक बेटी अन्‍नू कुमारी भी है। लड़की की शादी कर चुके हैं और सोनू बचपन से उन्‍हीं के साथ रहा। नोएडा के सेक्‍टर-18 में 25 साल से लोगों को चाय, पान-मसाला और बीड़ी-सिगरेट पिला रहे दिगंबर झा का बेटा उनकी विरासत आगे बढ़ाने चला है। और वह भी किस ठसक से।

3.25 लाख/महीना क‍िराया… खोखा है या शोरूम!
दिल्‍ली से सटे नोएडा ने पिछले तीन दशक में जबरदस्‍त विकास देखा है। बड़ी-बड़ी कंपनियां यहां आईं तो प्रॉपर्टी के रेट कई गुना बढ़ गए। सेक्‍टर-18 और आसपास का इलाके में तो प्रॉपर्टी के रेट आसमान छूते हैं।सेक्टर-18 में नोएडा अथॉरिटी की तरफ से बनाए गए 10 कियोस्क की 10 जनवरी 2023 को ई-नीलामी हुई। इस नीलामी में कियोस्क का बेस किराया प्रति महीने का 27 हजार रुपये निर्धारित था।जबकि सेक्‍टर-18 में 7.59 वर्ग मीटर के K-3 खोखे के लिए 20 लोग दावेदारी पेश कर रहे थे। हजारों से होती हुई बोली लाखों में जाने लगी। दिगंबर के बेटे सोनू ने सबसे ज्‍यादा 3.25 लाख रुपये की बोली लगाई। उन्‍होंने 14 महीने का अडवांस किराया जमा किया है। अथॉरिटी ने सोनू को अलॉटमेंट लेटर जारी कर दिया है। 8 नंबर कियोस्क के लिए 1 लाख 93 हजार, 7 नंबर कियोस्क के लिए 1 लाख 56 हजार, 16 नंबर कियोस्क के लिए 71 हजार, 9 नंबर कियोस्क के लिए 63 हजार रुपये की सबसे अधिक बोली लगी।

सम्बन्धित खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें

spot_img

आपके विचार

Manohar on *स्वर्गीय पासवान की स्मृति और आदर्श सदैव प्रेरणादायक:शास्त्री* खगड़िया, 26 अक्तूबर 2022 सदर प्रखण्ड के रानीसकरपुरा निवासी पूर्व जिला परिषद् प्रत्याशी व जदयू नेता समाजसेवी स्मृतिशेष दिवंगत राजेश पासवान के याद में रानीसकरपुरा पंचायत के वार्ड नं 01 स्थित सुशिला सदन के परिसर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया।जिसकी अध्यक्षता स्थानीय पंसस प्रतिनिधि रवि कुमार पासवान ने की।जबकि मंच संचालन डॉ0 मनोज कुमार गुप्ता ने किया।सर्वप्रथम उपस्थित अतिथियों तथा शुभचिंतकों के द्वारा उनके तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित कर नमन करते हुए श्रद्धांजलि दी गई। मौके पर जदयू के जिला प्रवक्ता आचार्य राकेश पासवान शास्त्री ने कहा कि स्वर्गीय राजेश पासवान की मधुर स्मृति, स्नेह,आदर्श, मार्गदर्शन एवं उनके आशीर्वाद हमसबों के लिए सदैव प्रेरणादायक रहेंगे।उन्होंने कहा कि जब कभी भी बरैय और रानीसकरपुरा पंचायत के राजनीतिक व सामाजिक कार्यों में बेहतर भूमिका निभाने वालों की चर्चा होगी तो उसमें स्वर्गीय पासवान का नाम श्रद्धापूर्वक लिया जाएगा। इस अवसर पर रामपुकार पासवान, रामविलाश पासवान, रामदेव पासवान, चन्दर पासवान, अरूण पासवान, जदयू नेत्री ईशा देवी, रीना देवी, बिभा कुमारी,राजीव पासवान, अमित पासवान, सरोज पासवान, विजय पासवान, जितेन्द्र पासवान, दीपक कुमार, हरिवंश कुमार, अभिषेक कुमार, वार्ड सदस्या सुशीला देवी,अनोज कृष्ण,चिराग व बिक्रम कुमार आदि दर्जनों गणमान्य लोग उपस्थित थे