33.5 C
Khagaria
Monday, June 24, 2024
बड़ी खबरें :

हल्का कर्मचारी ने प्रतिवेदित किया है कि जमीन से संबंधित साक्ष्य देने के उपरांत जमाबंदी पुनर्लेखन की कार्रवाई की जाएगी जानें

हल्का कर्मचारी ने प्रतिवेदित किया है कि जमीन से संबंधित साक्ष्य देने के उपरांत जमाबंदी पुनर्लेखन की कार्रवाई की जाएगी

JNA.ब्रजेश विभू

पत्रकार नगर, खगड़िया।9868 सदानंद सिंह व प्रस्तुत परिवाद संख्या 521110122042209868 परिवादी द्वारा अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय खगड़िया के काउंटर पर जमा किया गया है | परिवादी- सदानन्द सिंह, पिता स्व० अखिलेश्वर प्रसाद, ग्राम-बलुआही, डाकघर- , प्रखण्ड- अलौली, अनुमंडल- खगड़िया, जिला- खगड़िया का परिवाद रसीद निर्गत करने से संबंधित है | मौजा हाजीपुर, तौजी- 525, थाना नं०- 267, खाता- 54, खेसरा- 135, रकवा- 0-0-18 है | रैयत इश्वरी सिंह पे० शंकर सिंह सा० बलुआही लगान रसीद वर्ष 2010-11 तक वसूल है | लोक प्राधिकार अंचल अधिकारी, खगड़िया का प्राप्त प्रतिवेदन कार्यालय पत्रांक-1718, दिनांक-18.05.2022 में अंकित किया गया है कि परिवादी रसीद निर्गत करने हेतु परिवाद लाये है | इस संबंध में परिवादी को सलाह दिया गया था कि पंजी-II की प्रति जीर्णशीर्ण अवस्था में है | इस संबंध में अंचल अधिकारी कार्यालय में पुनर्लेखन हेतु आवेदन देने हेतु कहा गया | परिवादी द्वारा आवेदन के साथ अन्य कोई साक्ष्य संलग्न नहीं किया गया | इस संबंध में हल्का कर्मचारी ने प्रतिवेदित किया है कि जमीन से संबंधित साक्ष्य देने के उपरांत जमाबंदी पुनर्लेखन की कार्रवाई की जाएगी | तत्पश्चात अंचल अधिकारी, खगड़िया ने अपने कार्यालय ज्ञापांक 3007, दिनांक 27.09.2022 से भूमि सुधार उप समाहर्ता, खगड़िया को प्रतिवेदन समर्पित किये है कि अंचल अमीन द्वारा वर्णित जमीन का भौतिक सत्यापन ग्रामीण एवं चौहद्दीदार की उपस्थिति में किया गया | जमीन का विवरण मौजा हाजीपुर, थाना नं०- 267, खाता- 54, खेसरा- 135, रकवा- 0-0-9-4 है | वर्तमान में यह भूमि आवेदक के दखल में बताया गया | अतः अनुरोध है कि उक्त वर्णित जमीन का जमाबंदी पूर्णलेखन करने मार्गदर्शन देने की कृपा की जाय | तत्पश्चात पुनः अंचल अधिकारी, खगड़िया ने अपने कार्यालय पत्रांक 3183, दिनांक 01.11.2022 से अपर समाहर्ता, खगड़िया को प्रतिवेदन समर्पित किये है कि आवेदित जमीन रैयती खाता- खेसरा की है एवं पंजी ii में रकवा 0-0-18-0 है परन्तु स्थल पर 0-0-9-4 है | शेष रकवा 0-0-8-16 सड़क में चला गया है | उक्त वर्णित जमीन के रकवा का जमाबंदी पुर्नलेखन करने हेतु मार्गदर्शन देने की कृपा की जाय | अगली सुनवाई में अंचल अधिकारी, खगड़िया ने अपने ज्ञापांक 3246, दिनांक 07.11.2022 से राजस्व कर्मचारी को आदेश दिए है कि वर्णित जमीन का जमाबंदी पुनर्लेखन कर लगान रसीद निर्गत करते हुए अनुपालन प्रतिवेदन अविलम्ब अधोहस्ताक्षरी के कार्यालय में समर्पित करना सुनिश्चित करें | तत्पश्चात अगली सुनवाई में परिवादी द्वारा स्वयं उपस्थित होकर लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी का आभार प्रकट करते हुए बताया गया कि उनका जमाबंदी पुनर्लेखन कर रसीद निर्गत कर दिया गया है | स्पष्ट करना है कि इस परिवाद पर तीन अंचल अधिकारी के कार्यकाल में सुनवाई की गई तब जाकर परिवाद का फलाफल निकला | पूर्व अंचल अधिकारी, खगड़िया श्री अम्बिका प्रसाद जो इसी वर्ष अपने पद से सेवा निवृत हुए है उनके द्वारा इस मामले पर किसी भी प्रकार की कार्रवाई नही की गई | तत्पश्चात अंचल अधिकारी, मानसी श्री प्रभात कुमार द्वारा अंचल खगड़िया का अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करने के पश्चात उनको वर्णित परिवाद पर कार्रवाई करने हेतु निर्देश दिया गया परन्तु उनके द्वारा भी वर्णित जमीन को कभी सरकारी जमीन बताकर तो कभी परिवादी द्वारा साक्ष्य उपलब्ध नही कराने का बहाना बनाकर टाल मटोल किया गया जबकि परिवादी द्वारा बार-बार यह कहा जा रहा था कि उसी खेसरा और खाता में उनके संबंधी का रसीद निर्गत किया जा रहा है | साथ ही कई सुनवाई में इस कार्यालय में अंचल अधिकारी को परिवादी के जमीन का साक्ष्य उपलब्ध कराया गया परन्तु इस पर उनके द्वारा किसी भी प्रकार की कार्रवाई नही की गई | तत्पश्चात अंचल अधिकारी, अलौली द्वारा खगड़िया अंचल का अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करने के पश्चात उनको इस पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया | उनके द्वारा जमीन का भौतिक सत्यापन करवाया गया एवं स्पष्ट किया गया कि जमीन परिवादी के कब्जे में है | परन्तु साक्ष्य में जितने रकवा का उल्लेख है स्थल पर उससे कम रकवा परिवादी के कब्जे में पाया गया एवं पता चला कि शेष जमीन सड़क में चली गई है | तत्पश्चात अंचल अधिकारी द्वारा बताया गया कि उपलब्ध कराये गए कागजात से कम जमीन का रसीद काटने पर भविष्य में परिवादी कम जमीन का रसीद काटने का आरोप लगा सकती है एवं इस पर वरीय पदाधिकारी का भी आदेश प्राप्त करना आवश्यक है | अंचल अधिकारी द्वारा इस सम्बन्ध में भूमि सुधार उप समाहर्ता एवं अपर समाहर्ता से भी रसीद काटने की अनुमति लेने हेतु पत्र भेजा गया | इस पर परिवादी द्वारा भी अपनी शेष बची हुई जमीन का ही जमाबंदी पुनर्लेखन कर रसीद काटने की सहमती दी गई | तत्पश्चात परिवादी से NR का शुल्क लेते हुए शेष जमीन की मापी का आदेश अमीन को दिया गया एवं अंतिम रूप से सभी तरह से संतुष्ट होने के पश्चात अंचल अधिकारी द्वारा राजस्व कर्मचारी को जमाबंदी पुनर्लेखन कर लगान रसीद निर्गत करने का आदेश दिया गया जिसके आलोक में परिवादी के जमीन का जमाबंदी पुनर्लेखन कर रसीद काटा गया | इस प्रकार परिवाद का निवारण सम्पन्न कराया गया | इस परिवाद के निवारण में लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को काफी परिश्रम करना पड़ा | परिवादी भी 80 वर्ष का वृद्ध होने के वाबजूद लगातर सुनवाई में आता रहा | इस परिवाद का निवारण कराना परिवादी, लोक प्राधिकार एवं लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सभी के लिए एक जंग जितने जैसा था |

यह भी पढ़ें :  जगह-जगह जिला मुख्यालयों में अंगिका भाषा की संवैधानिक मान्यता के लिए एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन,डीएम को सौंपा ज्ञापन सकलदेव जी ने कहा अंगिका समाज अंगिका एवं अंगिक लोगों की अस्मिता के लिए धरना

सम्बन्धित खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें

spot_img

आपके विचार

Manohar on *स्वर्गीय पासवान की स्मृति और आदर्श सदैव प्रेरणादायक:शास्त्री* खगड़िया, 26 अक्तूबर 2022 सदर प्रखण्ड के रानीसकरपुरा निवासी पूर्व जिला परिषद् प्रत्याशी व जदयू नेता समाजसेवी स्मृतिशेष दिवंगत राजेश पासवान के याद में रानीसकरपुरा पंचायत के वार्ड नं 01 स्थित सुशिला सदन के परिसर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया।जिसकी अध्यक्षता स्थानीय पंसस प्रतिनिधि रवि कुमार पासवान ने की।जबकि मंच संचालन डॉ0 मनोज कुमार गुप्ता ने किया।सर्वप्रथम उपस्थित अतिथियों तथा शुभचिंतकों के द्वारा उनके तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित कर नमन करते हुए श्रद्धांजलि दी गई। मौके पर जदयू के जिला प्रवक्ता आचार्य राकेश पासवान शास्त्री ने कहा कि स्वर्गीय राजेश पासवान की मधुर स्मृति, स्नेह,आदर्श, मार्गदर्शन एवं उनके आशीर्वाद हमसबों के लिए सदैव प्रेरणादायक रहेंगे।उन्होंने कहा कि जब कभी भी बरैय और रानीसकरपुरा पंचायत के राजनीतिक व सामाजिक कार्यों में बेहतर भूमिका निभाने वालों की चर्चा होगी तो उसमें स्वर्गीय पासवान का नाम श्रद्धापूर्वक लिया जाएगा। इस अवसर पर रामपुकार पासवान, रामविलाश पासवान, रामदेव पासवान, चन्दर पासवान, अरूण पासवान, जदयू नेत्री ईशा देवी, रीना देवी, बिभा कुमारी,राजीव पासवान, अमित पासवान, सरोज पासवान, विजय पासवान, जितेन्द्र पासवान, दीपक कुमार, हरिवंश कुमार, अभिषेक कुमार, वार्ड सदस्या सुशीला देवी,अनोज कृष्ण,चिराग व बिक्रम कुमार आदि दर्जनों गणमान्य लोग उपस्थित थे