35.1 C
Khagaria
Monday, June 24, 2024
बड़ी खबरें :

बालिका कंचन के हत्यारे को फांसी की सजा होनी चाहिए:-गोगा देवी नायक रायसिंहनगर महिला कांग्रेस सेवादल जिलाध्यक्ष गोगा देवी नायक ने लालगढ़ में बालिका कंचन के हत्यारों को फांसी की सजा की मांग की है उन्होंने कहा की छोटी सी बच्ची को एक दरिंदे ने जिस तरीके से दरिंदगी करके और मौत के घाट उतारा है यह समाज के लिए एक बहुत बड़ा कलंक है जिसे देखते हुए मैं सरकार से मांग करूंगी कि ऐसे दरिंदे को फांसी की सजा होनी चाहिए क्योंकि ऐसी घटना की पुनरावृति ना हो इसलिए ऐसे राक्षस को फांसी की सजा होनी चाहिए क्योंकि अगर एक राक्षस को फांसी की सजा होती है तो दोबारा ऐसी कोई घटना हमारे देश और हमारे राज्य में नहीं होगी मैं गहलोत सरकार से मांग करती हूं कि इस घटना से सबक लेते हुए महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए और ऐसे राक्षसों को जल्द से जल्द फांसी दी जाए

बालिका कंचन के हत्यारे को फांसी की सजा होनी चाहिए:-गोगा देवी नायक

 

रायसिंहनगर महिला कांग्रेस सेवादल जिलाध्यक्ष गोगा देवी नायक ने लालगढ़ में बालिका कंचन के हत्यारों को फांसी की सजा की मांग की है उन्होंने कहा की छोटी सी बच्ची को एक दरिंदे ने जिस तरीके से दरिंदगी करके और मौत के घाट उतारा है यह समाज के लिए एक बहुत बड़ा कलंक है जिसे देखते हुए मैं सरकार से मांग करूंगी कि ऐसे दरिंदे को फांसी की सजा होनी चाहिए क्योंकि ऐसी घटना की पुनरावृति ना हो इसलिए ऐसे राक्षस को फांसी की सजा होनी चाहिए क्योंकि अगर एक राक्षस को फांसी की सजा होती है तो दोबारा ऐसी कोई घटना हमारे देश और हमारे राज्य में नहीं होगी मैं गहलोत सरकार से मांग करती हूं कि इस घटना से सबक लेते हुए महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए और ऐसे राक्षसों को जल्द से जल्द फांसी दी जाए

Previous article
Next article
युद्ध में शहीद हुए परिवारों की विधवाओं को गोद लेने पर NCCHWO परियोजना की उपराज्यपाल जम्मू-कश्मीर ने सराहना की* ======================PUSHPA BHATI NCCHWO NATIONAL MEDIA PARBHARI ====================== 1. जम्मू-कश्मीर में वीर नारियों के परिवारों को गोद लेने के लिए नागरिकों को प्रेरित करने के लिए एन सी सी एच डब्ल्यू ओ के राष्ट्रीय प्रशासक ब्रिगेडियर हरचरण सिंह द्वारा एक परियोजना की परिकल्पना की गई थी। इसके अलावा, सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए, कॉमर्स कॉलेज जम्मू के छात्रों के लिए देशभक्ति विषय पर आधारित पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई। बलिदान स्तंभ जम्मू से पौनी में नवनिर्मित अमर जवान शौर्य स्थल के बीच 95 किलोमीटर की दूरी पर पहाड़ी रास्ते से साइकिल की सवारी कराई गई। 2. पूनी के लोगों द्वारा संत बाल योगेश्वर दास जी के गतिशील नेतृत्व में एक युद्ध स्मारक का निर्माण किया गया था। उद्घाटन जम्मू-कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर द्वारा किए जाने की योजना थी। निर्णय लिया गया कि साइकिल चालकों, चित्रकला प्रतियोगिता के विजेताओं और वीर नारियों को गोद लेने के लिए स्वयंसेवा करने वाले गैर सरकारी संगठनों को प्रशंसा पत्र भेंट किया जाए। सैन्य प्रेस्टन के साथ एक प्रभावशाली समारोह आयोजित किया गया, जहां जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल ने अमर जवान शौर्य स्तंभ का उद्घाटन किया और माल्यार्पण किया। 3. ब्रिगेडियर हरचरण सिंह ने वीर नारियों के दत्तक ग्रहण कार्यक्रम, देशभक्ति विषय पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता और साइकिलिंग अभियान की अवधारणा पेश की। प्रवीण रैना के नेतृत्व में जम्मू हिल्स स्पोर्ट्स क्लब के 12 साइकिलिस्टों को सम्मानित किया गया। चार पेंटिंग प्रतियोगिता विजेता छात्रों, समन्वयक दीपशिखा और गवर्नमेंट कॉमर्स कॉलेज जम्मू की प्रिंसिपल को प्रशंसा पत्र भेंट किया गया। वीर नारियों को गोद लेने के लिए, गैर सरकारी संगठनों के अध्यक्षों को उनकी टीम के सदस्यों के साथ सम्मानित किया गया। एसएस जैन सभा तालाब तिलू से श्री गीत जैन, एसएस जैन सभा त्रिकुटा नगर से जैनिंदर जैन, जैन महिला मंडल से सुनंदा जैन, आईडब्ल्यूसी जम्मू तवी से प्रमजीत कौर, अदिति सेवा प्रतिष्ठान की सुश्री पंकजा और एनसीसीएचडब्ल्यूओ के रमणिक सिंह ने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल से प्रशंसा प्रमाण पत्र प्राप्त किया। सभी वीर नारियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। 4. यह एक विचार प्रक्रिया की शुरुआत थी, जिसमें नागरिकों को वीर नारियों के परिवारों को गोद लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया था, ताकि उन्हें आवश्यक मनोवैज्ञानिक सहायता प्रदान की जा सके और अपने बच्चों को कैरियर परामर्श के साथ मार्गदर्शन किया जा सके। मानसिक आघात के संकेतों की पहचान करने के लिए वीर नारियों की स्कैनिंग करने के लिए मनोवैज्ञानिक की सेवाओं की योजना बनाई जा रही है। उम्मीद है कि शहीदों के परिवारों को मनोवैज्ञानिक सहायता प्रदान करने के लिए इस तरह की परियोजनाएं पूरे भारत में शुरू की जाएंगी।
सम्बन्धित खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें

spot_img

आपके विचार

Manohar on *स्वर्गीय पासवान की स्मृति और आदर्श सदैव प्रेरणादायक:शास्त्री* खगड़िया, 26 अक्तूबर 2022 सदर प्रखण्ड के रानीसकरपुरा निवासी पूर्व जिला परिषद् प्रत्याशी व जदयू नेता समाजसेवी स्मृतिशेष दिवंगत राजेश पासवान के याद में रानीसकरपुरा पंचायत के वार्ड नं 01 स्थित सुशिला सदन के परिसर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया।जिसकी अध्यक्षता स्थानीय पंसस प्रतिनिधि रवि कुमार पासवान ने की।जबकि मंच संचालन डॉ0 मनोज कुमार गुप्ता ने किया।सर्वप्रथम उपस्थित अतिथियों तथा शुभचिंतकों के द्वारा उनके तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित कर नमन करते हुए श्रद्धांजलि दी गई। मौके पर जदयू के जिला प्रवक्ता आचार्य राकेश पासवान शास्त्री ने कहा कि स्वर्गीय राजेश पासवान की मधुर स्मृति, स्नेह,आदर्श, मार्गदर्शन एवं उनके आशीर्वाद हमसबों के लिए सदैव प्रेरणादायक रहेंगे।उन्होंने कहा कि जब कभी भी बरैय और रानीसकरपुरा पंचायत के राजनीतिक व सामाजिक कार्यों में बेहतर भूमिका निभाने वालों की चर्चा होगी तो उसमें स्वर्गीय पासवान का नाम श्रद्धापूर्वक लिया जाएगा। इस अवसर पर रामपुकार पासवान, रामविलाश पासवान, रामदेव पासवान, चन्दर पासवान, अरूण पासवान, जदयू नेत्री ईशा देवी, रीना देवी, बिभा कुमारी,राजीव पासवान, अमित पासवान, सरोज पासवान, विजय पासवान, जितेन्द्र पासवान, दीपक कुमार, हरिवंश कुमार, अभिषेक कुमार, वार्ड सदस्या सुशीला देवी,अनोज कृष्ण,चिराग व बिक्रम कुमार आदि दर्जनों गणमान्य लोग उपस्थित थे